10 Best Old Ayurvedic Books in Hindi PDF Free Download

दोस्तों यदि आप इंटरनेट पर पुरानी आयर्वेदिक पुस्तकों के बारे में सर्च कर रहे है, तो एकदम सही जगह पर आये है। आज की इस पोस्ट में हम आपको आयुर्वेदिक पुस्तकों का Download Link उपलब्ध करवाने जा रहे है, जहा से आप Old Ayurvedic Books in Hindi Pdf Free Download कर सकते है।

इस पोस्ट में हम आपको 10 बेहतरीन आयुर्वेदिक पुस्तकों को PDF फॉर्मेट में उपलब्ध करवाने जा रहे है, जिन्हे पढ़कर आप शरीर की मुल बातों के बारे में जान पाएंगे। आयुर्वेद को पढ़कर आप शरीर में होने वाली विभिन्न बीमारियों के उत्पन्न होने के कारण और उनके निवारण के बारे में जान पाएंगे।

यदि आप आयुर्वेद से संबंधित जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो आप इस पोस्ट में दी गयी विभिन्न पुस्तकों का अध्यनन कर विस्तृत रूप से जान सकते है। आयुर्वेदिक पुस्तकों को PDF फॉर्मेट में Download करने के लिए पोस्ट में उपलब्ध सारणी में दिए गए Download Link पर क्लिक करे।

Old Ayurvedic Books in Hindi Pdf Free Download

Old Ayurvedic Books in Hindi PDF
NOTE - Old Ayurvedic Books in Hindi Pdf Free Download करने के लिए नीचे गयी सारणी में Download Link पर क्लिक करे। 
क्र.स.PDF Size Book NameDownload Link
1.1.8 MB आपका स्वास्थ्य Download
2.8.6 MB नारायण चिकित्सा Download
3.15 MB स्वास्थ्य साधना Download
4.9.5 MB स्वास्थ्य कला और गृह प्रबंध Download
5.23.5 MB स्वास्थ्य और रोग Download
6.14.1 MB स्वास्थ्य और दीर्घायु Download
8.9.4 MB आधुनिक स्वास्थ्य विज्ञान Download
9.2.9 MB संक्षिप्त शरीर विज्ञान Download
10.4.9 MB सरल शरीर विज्ञान Download

Old Ayurvedic Books in Hindi Pdf

सारणी में दी गयी किसी भी पुस्तक को PDF फॉर्मेट में Download करके आप हिंदी भाषा में पढ़ सकते है और आयर्वेद के बारे में विस्तृत रूप से जान सकते है।

सामान्यतः आयुर्वेद दो शब्दों से मिलकर बना है। पहला आयुष, जिसका शाब्दिक अर्थ जीवन से है और दूसरा वेद, जिससे तात्पर्य है विज्ञान। आयुर्वेद का सयुक्त रूप से आशय जीवन के विज्ञान से है। आयुर्वेद प्राचीन चिकित्सा प्रणाली है, जिसका आज भी उतना ही महत्व है, जितना कि प्राचीन काल में हुआ करता था।

आज भी भारत में कई लोग आयुर्वेद चिकित्सा पर अटूट विश्वास रखते है। आयुर्वेद में उस बड़ी से बड़ी बीमारी का निवारण बताया गया है, जो आज के समय में घातक है। आयुर्वेद न केवल रोगो का इलाज करता है, बल्कि यह रोगो को रोकता भी है। वही आयुर्वेदि ओषधियाँ स्वस्थ लोगो के लिए भी उपयोगी है। आयुर्वेदिक ओषधियाँ शरीर को विभिन्न रोगो से सुरक्षा प्रदान करती है।

आयुर्वेद के अनुसार मनुष्य का शरीर मुख्यतः चार चीजों से मिलकर निर्मित हुआ है। ये चार चीजे – दोष, धातु, मल और अग्नि है। आयुर्वेद के अनुसार कोई भी व्यक्ति किसी भी प्रकार के रोग से तब ग्रसित होता है, जब वह बड़े मानसिक तनाव से ग्रसित होता है।

इस पोस्ट में उपलब्ध पुस्तकों को पढ़कर आप अपनी आत्मा शरीर, मन, आत्मा और पर्यावरण के बीच संतुलन बनाकर आप अपनी जीवनशैली को सुगम बना सकते है और प्राकृतिक उपचारो के बारे में विस्तृत रूप से जान सकते है।

आधुनिक काल में आयुर्वेद के फायदे

आयुर्वेद प्राचीन भारत की चिकित्सा प्रणाली है, जिसका अनुसरण आज भी होता जा रहा है। आधुनिक काल में आयुर्वेद लोगो के लिए कई प्रकार से फायदेमंद साबिक हुआ है। आयुर्वेद के निम्न फायदे है –

  • नियमित रूप से संतुलित आहार का सेवन करने और आयुर्वेदिक इलाजो के माध्यम से आप अपने शरीर की चर्बी को कम कर सकते है।
  • आयुर्वेद का इस्तेमाल करके आप अपने जीवन में चल रहे लम्बे तनाव से मुक्ति पा सकते है।
  • आयुर्वेद औषधियों का नियमित रूप से आप कैंसर जैसी बड़ी बीमारियों से सुरक्षित रहते है।
  • आयुर्वेद का उपयोग करके आप अपने शरीर की रोग प्रतिरिधक क्षमता को बढ़ा सकते है। जिसके लिए आप आयुर्वेद ओषधियों जैसे – गिलोय, आंवला, तुलसी, हल्दी, काली मिर्च आदि का प्रयोग कर सकते है।
  • आयुर्वेद के उपयोग से हम अपने शरीर को शुद्ध बना सकते है। आयुर्वेद के अंतर्गत पंचकर्म में एनीमा, तेल मालिश, रक्त देना, शुद्धिकरण और अन्य मौखिक प्रशासन के माध्यम से शारीरिक विषाक्त पदार्थों को समाप्त करने की ताकत होती है। 

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में कारगर है आयुर्वेद

आयुर्वेद की आज हर जगह उपयोगिता है। आयुर्वेद को रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में कारगर बताया गया है। अक्सर हम उस समय बीमार हो जाते है, जब हमार शरीर का प्रतिरक्षा तंत्र कमजोर हो जाता है। इसे मजबूत बनाने के लिए आप आयुर्वेद की अनेक जड़ी-बूटियों का इस्तेमाल कर सकते है।

रोग प्रतिरोधक क्षमता के बढ़ने से आप अपने शरीर को कोराना जैसी महामारी से सुरक्षित रख सकते है। यदि आपका प्रतिरक्षा तंत्र मजबूत होगा तो वह घातक से घातक वाइरस से लड़ने की क्षमता रखेगा और आपके शरीर को सुरक्षा प्रदान करेगा।

उम्मीद करते है कि अब तक आप आयुर्वेद के बारे में अच्छे से जान गए होंगे। अब हम आयुर्वेद से सबंधित कुछ सवाल-जवाब के बारे में जान लेते है, जिससे आप आयुर्वेद के बारे में और अच्छे से जान जाएंगे –

FAQs: Old Ayurvedic Books in Hindi Pdf Free Download

Old Ayurvedic Books in Hindi Pdf Free Download कैसे करे?

यदि आप आयुर्वेदिक की प्रसिद्ध पुस्तकों को PDF फॉर्मेट में डाउनलोड करना चाहते है तो पोस्ट में 10 best आयुर्वेदिक पुस्तके उपलब्ध करवाई गयी है, जिन्हे आप सारणी में दिए गए Download Link पर क्लिक करके आसानी से फ्री में डाउनलोड कर सकते है।

आयुर्वेदिक दवा का असर कितने दिन में शुरू होता है?

कई लोगो को आयुर्वेदिक दवा के प्रभाव को लेकर डाउट रहता है कि यह कितने देर में असर करती है। आयुर्वेदिक मेडिसिन्स एक हफ्ते से पहले असर दिखाने लगती हैं। कई बार बीमारी ठीक होने में एक महीने से लेकर साल भर भी लग जाता है। 

आयुर्वेद के 4 मूल बातें क्या हैं?

आयुर्वेद के अनुसार, मानव शरीर चार मूल तत्वों से बना है- दोष, धातु, मल और अग्नि।

Conclusion:-

इस पोस्ट में Old Ayurvedic Books in Hindi Pdf Free Download उपलब्ध करवाई गयी है, साथ ही आयुर्वेद के विभिन्न फायदों के बारे में जानकारी प्रदान की गयी है। उम्मीद करते है कि Ayurvedic Books in Hindi Pdf Download करने में किसी भी प्रकार की समस्या नहीं हुई होगी।

आशा करते है कि यह पोस्ट आपको जरूर पसंद आयी होगी है। यदि आपको Ayurvedic Granth in Hindi Pdf Download करने में किसी भी प्रकार की समस्या आ रही हो तो कमेंट करके जरूर बताये। साथ ही इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करे।

Download More PDF:-

Leave a Comment