गुलज़ार शायरी बुक | Shayari Book PDF in Hindi (2024)

आज की इस पोस्ट में हम आपको Shayari Book PDF in Hindi निःशुल्क रूप से उपलब्ध करवाने वाले है, जिसे आप पोस्ट में दिए गए Download बटन की सहायता से आसानी से प्राप्त कर सकते है।

कई लोगो को शायरी पढ़ने का शोक होता है। यदि आप भी शायरी पढ़ने का शौक रखते है, तो आज की यह पोस्ट आपके लिए खास होने वाली है, जिसके अंतर्गत हम आपको शायरी की बेहतरीन पुस्तक, गुलजार शायरी पुस्तक PDF के रूप में उपलब्ध करवाने वाले है। इस पुस्तक में आपको ढेर सारी शायरियां देखने को मिल जाती है।

Shayari Book PDF in Hindi Details

PDF Titleगुलजार हिंदी शायरी बुक
Language Hindi
Category शायरी
Total Pages 168
Pdf Size 3.6 MB
Download Link Available
NOTE - गुलजार शायरी पुस्तक पीडीऍफ़ Download करने के लिए नीचे दिए Download लिंक पर क्लिक करें। 

शायरी बुक PDF क्या है

Shayari Book PDF in Hindi

इस PDF के अंतर्गत आपको शायरी पुस्तक के रूप में गुलजार शायरी पुस्तक उपलब्ध करवाई गयी है। इस पुस्तक के लेखक गुलजार है। इनका बचपन का नाम सम्पूर्ण सिंह था। इनका जन्म सन 1936 ब्रिटिश भारत के काल में पंजाब राज्य के झेलम जिले के दीना में हुआ था, जो की अब पाकिस्तान का हिस्सा है।

गुलजार साब एक लेखक के साथ-साथ कवि, नाटककार तथा फिल्म निर्देशक भी है। इनके द्वारा हिंदी, उर्दू, पंजाबी, ब्रज भाषा, खड़ी बोली, मारवाड़ी तथा हरयाणवीं भाषा में रचनाये की है।

गुलजार साब अपनी अद्भुत कला के कारण भारत सरकार ने उन्हें साहित्य अकादमी पुरस्कार तथा भारत का तीसरा सबसे सर्वौच्च नागरिक सम्मान पद्म भूषण से सम्मानित किया गया है।

Hindi Shayari PDF Download

गुलजार शायरी संग्रह में शामिल कुछ शायरियों को नीचे उपलब्ध करवाया गया है जो आपको अवश्य ही पसन्द आएगी।

( 1 )

जिन्दा रहना बहुत जरुरी है
आज तक कोई भी रहा तो नही

सारी वादी उदास बैठी है
मौसम गुल ने खुदखुशी कर ली
किसने बारूद बोया बागों में

आओ हम सब पहन ले आईने
सारे देखेंगे अपना ही चेहरा
सारे हसीन लगेंगे यहां

है नहीं जो दिखाई देता है
आईने पर छपा हुआ चेहरा
तजुर्मा आईने का ठीक नहीं

हम ने ग़ालिब को यह दुआ दी थी
तुम सलामत रहो हजार बरस
ये बरस तो फकत दिनों में गया

लब तेरे मीरने भी देखेहै
पखुड़ी एक गुलाब की सी है
बात सुनते तो
ग़ालिब रो जाते

ऐसे बिखरे है रात दिन जैसे
मोतियों वाला हार टूट गया
तुमने मुझको पिरो के रखा था।

हम ने ग़ालिब को यह दुआ दी थी
तुम सलामत रहो हजार बरस
ये बरस तो फकत दिनों में गया

( 2 )

मैं दीवार की इस जानिब हूँ.
इस जानिब तो धूप भी है हरियाली भी !
आ जाये तो आलसी कोहरा,
शाख पे बैठा घंटों ऊँघता रहता है.
ओस भी गिरती है पत्तों पर
बारिश लम्बी तारों पर नटनी की तरह थिरकती,
आँखों से गुम हो जाती है,
जो मौसम आता है, सारे रस देता है !
लेकिन इस कच्ची दीवार की दूसरी जानिब,
क्यों ऐसा सन्नाटा है
कौन है जो आवाज नहीं करता लेकिन-
दीवार से टेक लगाए बैठा रहता है.

( 3 )

होली का दिन था
मुँह पर सारे रंग लागे थे

थोड़ी देर में ऊपर चढ़के
टांग पे टांग जमा के ऐसे बैठ गया था
होली की खबरों में लोग उसे भी जैसे
अब टीवी पर देख रहे होंगे।

(4)

हम समझदार भी इतने हैं के
उनका झूठ पकड़ लेते हैं
और उनके दीवाने भी इतने के फिर भी 
यकीन कर लेते है

(5)

कभी जिंदगी एक पल में गुजर जाती है
कभी जिंदगी का एक पल नहीं गुजरता

(6)

आदतन तुम ने कर दिए वादे,
आदतन हमने ऐतबार किया।
तेरी राहो में बारहा रुक कर,
हम ने अपना ही इंतज़ार किया।।
अब ना मांगेंगे जिंदगी या रब,
ये गुनाह हमने एक बार किया।।।

(7)

सामने आए मेरे, देखा मुझे, बात भी की,
मुस्कुराए भी, पुरानी किसी पहचान की ख़ातिर, 
कल का अख़बार था, बस देख लिया, रख भी दिया।।

(8)

उधड़ी सी किसी फिल्म का एक सीन थी बारिश,
इस बार मिली मुझसे तो गमगीन थी बारिश।
कुछ लोगों ने रंग लूट लिए शहर में इस के,
जंगल से जो निकली थी वो रंगीन थी बारिश।।

(9)

बीच आसमां में था बात करते- करते ही,
चांद इस तरह बुझा जैसे फूंक से दिया,
देखो तुम इतनी लम्बी सांस मत लिया करो।।

(10)

वो मोहब्बत भी तुम्हारी थी नफरत भी तुम्हारी थी,
हम अपनी वफ़ा का इंसाफ किससे माँगते..
वो शहर भी तुम्हारा था वो अदालत भी तुम्हारी थी

इस तरह की और अधिक शायरियों को पढ़ने के लिए आप गुलजार शायरी पुस्तक की pdf को फ्री में डाउनलोड कर सकते है। गुलजार शायरी पुस्तक में आपको सैकड़ो प्रकार की रोचक शायरी पढ़ने को मिल जाएगी। जिसमे प्रत्येक शायरी के सामान्य शब्द आपके मन के अंदर संवेदनशीलता प्रदान करते है।

FAQs:- Shayari Books in Hindi PDF

शायरी का मतलब क्या होता है?

भारतीय उपमहाद्वीप में शायरी एक प्रकार की कविता का प्रकार है, जिसे हिंदी तथा उर्दू भाषा में कविता लिखी जाती है।

शेर और शायरी में क्या अंतर होता है?

शेर का बहुवचनीय रूप अशआर होता है। जबकि शेर कहने की कला को शायरी कहा जाता है।

एक शायरी में कितनी लाइन होती है?

सामान्यतः शायरी दोहे का ही छोटा रूप है, जिसे कविता के रूप में हिंदी और उर्दू भाषा में मिश्रित रूप से तीन या चार पंक्तियों में लिखा जाता है।

Shayari Book PDF कैसे Download करें?

यदि आप गुलजार शायरी पुस्तक को Pdf के रूप में निःशुल्क रूप से प्राप्त करना चाहते है तो पोस्ट में दिए गए Download बटन पर क्लिक करके आसानी से Download कर सकते है।

दुनिया का नंबर 1 शायर कौन है?

अल्फ्रेड टेनिसन, विलियम शेक्सपियर, मीर तक़ी मीर, मौलाना रूमी, ग़ालिब और फ़ैज़ अहमद फ़ैज़ जैसे महान शायरों को दुनिया के सबसे बेहतरीन शायर मानते हैं।

Conclusion :-

इस पोस्ट के माध्यम से Shayari Book PDF जिसके अंतर्गत आपको गुलजार शायरी पुस्तक निःशुल्क रूप से उपलब्ध करवाई गयी है। इसके अतिरिक्त आपको पोस्ट में गुलजार बुक से समन्धित कुछ शायरी को उपलब्ध करवाया गया है। उम्मीद करते है की Hindi Shayari PDF Download करने में किसी भी प्रकार की समस्या नहीं हुई होगी।

यदि आपको Hindi Shayari Ki Book PDF डाउनलोड करने में किसी भी प्रकार की समस्या हो रही हो, तो कमेंट करके जरूर बताये। साथ ही Best Shayri Books in Hindi को अपने दोस्तों या अपने पार्टनर के साथ जरूर शेयर करें।

Download More PDFs:-

Leave a Comment