सोनू निगम का जीवन परिचय। Sonu Nigam Biography in Hindi

नमस्कार, दोस्तों आज हम भारतीय पाश्र्व गायक सोनू निगम के बारे में जानने वाले हैं सोनू निगम हिंदी तथा कन्नड़ फिल्मों में गाने गाते हैं। हिंदी, कन्नड़, तमिल, पंजाबी, मराठी, मलयालम, तेलुगु, नेपाली तथा बंगाली और कई भाषाओं में सोनू निगम गाने गा चुके हैं।

हिंदी फिल्म इंडस्ट्रीज में राज करने वाले उदित नारायण के बाद सोनू दूसरे गायक है।सोनू ने कुछ फिल्मों में अभिनय भी किया है और साथ ही उनकी भारतीय पॉप एल्बम रिलीज हुई है। (सोनू निगम बॉयोग्राफी इन हिंदी)

सोनू निगम का जीवन परिचय (प्रारंभिक)

  • नाम – सोनू निगम
  • जन्म – 30 जुलाई 1973
  • जन्म स्थान – फरीदाबाद, हरियाणा
  • पिता – अगम कुमार निगम
  • माता – शोभा निगम
  • बहन – निकिता ,मीनल
  • पत्नी – मधुरिमा
  • बच्चे – निवान निगम

सोनू निगम का जन्म 30 जुलाई 1973 को हरियाणा के फरीदाबाद में कायस्थ (सोनू निगम की जाती क्या हैं) परिवार में हुआ। सोनू ने एक बार अपने पिता के साथ स्टेज पर “क्या हुआ तेरा वादा” गाना गाया तब वे 3 वर्ष के थे यहीं से सोनू के गायकी में करियर की शुरुआत हो गई।

इसके बाद वे शादी और पार्टियों में अपने पिता अगम कुमार के साथ गाने गाया करते थे सोनू एक मशहूर पार्श्वगायक तो थे ही उसी के साथ वे बेहद अच्छे टेलीविजन होस्ट एवं एक कॉमेडियन भी थे। (सोनू निगम का जीवन परिचय हिंदी में)

सोनू निगम की पढ़ाई

सोनू ने अपने शुरुआती शिक्षा जेडी टाइटलर स्कूल से ग्रहण की। इसके बाद इंटर कॉलेज की पढ़ाई डेल्ही यूनिवर्सिटी से पूरी की। आर्थिक स्थिति खराब होने के कारण कक्षा 12 की पढ़ाई पूरी करने के बाद अकादमिक शिक्षा पर ध्यान ना दे पाए अतः उन्हें डिग्री को पत्राचार के माध्यम से प्राप्त करना पड़ा। सोनू पढ़ाई में बहुत होशियार थे वे अपनी कक्षा में टॉप पर रहते थे।

बचपन से ही संगीत से लगाव

सोनू निगम के पिता अगम कुमार निगम एक स्टेज पर गाना गा रहे थे उस समय सोनू सिर्फ 3 वर्ष के थे सोनू के माता-पिता दोनों बेहद अच्छा गाना गाते हैं तो सोनू को संगीत अपने माता पिता से जन्म के साथ ही मिला था।

जब सोनू ने अपने पिता को गाना गाते हुए सुना तो वह जोर जोर से रोने लगे उनकी माता ने उन्हें पूछा कि क्या हुआ है तो पता चला कि सोनू को स्टेज पर गाना गाना है।तभी वहां के लोगों ने कहा कि गाने दो बच्चा है इससे पहले सोनू को गाते हुए उनके माता-पिता ने कभी नहीं सुना था तो वे दोनों चिंतित हो गए ।

परंतु सोनू ने अपने पिता के साथ “क्या हुआ तेरा वादा” गाना गाया। और इतना सुंदर गाना गाया कि उनके पिता ने उन्हें लाइट म्यूजिक सिखाना शुरू किया। सोनू ने दसवीं पढ़ते हुए कई प्रतियोगिताओं में भाग लिया और जीत हासिल की सोनू ने भारतीय शास्त्रीय संगीत को सिखा है। (Indias best Singer Sonu Nigam biography in hindi)

सोनू ने संगीत की शिक्षा किसी भी संगीत गुरु से नहीं ली है बल्कि इन्होंने लता जी, रफी साहब, किशोर कुमार, आशा जी और भी अन्य गायकों के गानों को ध्यान से सुनते एवं उनसे बेहद कुछ सीखा है।

संगीत का सफर

सोनू ने संगीत की शुरुआत 3 वर्ष की उम्र से ही कर दी जब सोनू को समझ आया कि वे अपना कैरियर संगीत में ही बनाने वाले हैं तब उन्होंने 6 महीने की संगीत शिक्षा ताहिर खान साहब से ली।

और इसके पश्चात वे अपने पिता के साथ 1991 में मुंबई चले गए सोनू जब मुंबई गए तब उनके पिता ने उन्हें बड़े और मशहूर गायक कलाकारों और संगीतकार के घर बताएं मुंबई आने के बाद शुरुआत में सोनू को ज्यादा पहचान ना मिल पाई।

उन्हें पहले मोहम्मद रफी साहब के गानों को स्टेज पर गाना पड़ता था और अपना गुजारा चलाना पड़ता था। मुंबई आकर सोनू ने संगीत की शिक्षा उस्ताद गुलाम मुस्तफा खान से लेना शुरू किया और अपना करियर बनाना प्रारंभ किया।

✓. 1991 में सोनू मुंबई आए और अपना करियर बनाना शुरू किया। (सोनू निगम का जीवन परिचय)

✓. 1992 में गुलशन कुमार और t-series म्यूजिक कंपनी के मालिक ने सोनू की आवाज सुनी तो उन्हें वह बेहद पसंद आई और उन्होंने सोनू को भजन के साथ ही मोहम्मद रफी के गानों को गाने का मौका भी दिया और इन्हे ‘रफी की यादों’ के नाम से Refi Resurrected CD1, CD2, CD3 में रिलीज किया।

✓. इससे सोनू को थोड़ी बहुत पहचान मिल गई। वे अब थोड़े ऊंचे स्तर के स्टेज शो करने लगे (सोनू निगम की जीवनी) इस कामयाबी के बाद सोनू को रेडियो में कमर्शियल एड बनाने का मौका मिला।

✓. इसी के साथ उन्होंने 1990 में जनम नाम की फिल्म में अपना पहला फिल्मी गाना गाया परंतु यह मूवी रिलीज नहीं हो पाई।

✓. इसके बाद में 1995 में सनम बेवफा में अच्छा सिला दिया गाना गाया जो कि बेहद हिट हुआ।

✓. 1995 में सिंगिंग रियलिटी शो सारेगामापा में Z TV चैनल पर उन्हें शो की होस्ट करने का मौका मिला जिससे वे सभी की नजरों में छा गए।

✓. 1997 में फिल्म बॉर्डर में सोनू ने संदेशे आते हैं गाना रूप कुमार राठौड़ के साथ मिलकर गाया और यह गाना बेहद सुपरहिट हुआ।

✓. 1997 में ही आई फिल्म परदेस में दीवाना दिल वाला गाना गाया यह गाना भी बेहद फेमस हुआ। (सोनू निगम के प्रसिद्ध गाने)

इस दौर के चलते सोनू एक के बाद एक हिट गाने गाते रहे जिनमें कुछ प्रसिद्ध गाने निम्न है -:

  1. संदेशे आते हैं
  2. दीवाना दिल
  3. कल हो ना हो
  4. कभी अलविदा ना कहना
  5. साथिया रे
  6. पहली पहली बार बलिए
  7. तुम ही देखो ना
  8. शुकराना अल्लाह
  9. सूरज हुआ मध्यम
  10. सोनियो
  11. दो पल
  12. इन लम्हों के दामन में

इतने बेहतरीन और मशहूर गानों को सुंदर आवाज में गाने के लिए सोनू को गोल्डन वॉइस ऑफ इंडिया के नाम से भी जाना जाता है।सोनू को अग्निपथ के अभी मुझमे कहीं और कल हो ना हो फिल्म में टाइमलाइन सॉन्ग के लिए बेहद सराहना मिली है। Sonu nigam biography in hindi

सोनू निगम की शादी

उनकी शादी मधुरिमा (sonu nigam wife) से 2002 में हुई 15 फरवरी 2002 को सोनू निगम ने मधुरिमा से शादी कर ली। जहां सोनू कायस्थ (sonu nigam cast) परिवार के है वहीं मधुरिमा बंगाली परिवार से हैं। सोनू और मधुरिमा के एक लड़का है जिसका नाम है निवान निगम है। (सोनू निगम बायोग्राफी इन हिंदी)

फिल्मों में करियर

सोनू ने फिल्मों में अभिनय का कार्य भी किया है सोनू ने बेताब फिल्म में अपने अभिनय की शुरुआत की। इसके बाद में कई फिल्मों में जिसे जानी दुश्मन एक अनोखी कहानी, लव इन नेपाल ,काश आप हमारे होते जैसे अनेक फिल्मों में उन्होंने अभिनय किया है। इन सारी फिल्मों में उन्हें ज्यादा रिस्पांस नहीं मिला

सोनू निगम के एल्बम

✓• सोनू ने हिंदी ,कनाडा ,उड़ीया तथा पंजाबी जैसी भाषाओं में पॉप एल्बम रिलीज किए हैं ।

✓•सोनू ने मोहम्मद रफी के गीत का संग्रह कर रफ़ी रेस्ट्रेक्टेड नाम की एल्बम निकाली है ।

✓• चंदा की डोली और नीने बारी नीने नाम की एल्बम भी सोनू की ही है।

सोनू के पुरस्कार तथा उपलब्धियां

  • 2008 – इंडियन टेलिविजन अकादमी पुरस्कार (Best male singer)
  • 2008 – फ़िल्म फेयर पुरस्कार (kannada best playback male singer)
  • 2008 – GBPA (बेस्ट सिंगर)
  • 2008 – एनुअल सेंट्रल यूरोपीयन पुरस्कार
  • 2009 – फ़िल्म फेयर पुरस्कार
  • 2009 -इंडियन टेलिविजन अकादमी पुरस्कार (Best male singer)
  • 2010 – बिग स्टार एंटरटेनमेंट पुरस्कार (सिंगर ऑफ डिकेड)
  • 2010 – अमर रिश्ते पुरस्कार (zee आइकॉन)
  • 2010 – GIMA (all is well सबसे मशहूर गाना)
  • 2010 – GIMA (best male live performer)
  • 2011 – GIMA (MTV youth icon)
  • 2011 – गीतांजलि वोव्व पुरस्कार (live personality)
  • 2012 – लायंस गोल्ड पुरस्कार (फेवरेट एवरग्रीन सिंगर)
  • 2013 – रॉयल स्टेज मिर्ची म्यूजिक पुरस्कार (“अभी मुझमें कहीं” गाने के लिए बेस्ट मेल वॉकलिस्ट)
  • 2013 – बिग स्टार एंटरटेनमेंट पुरस्कार (“अभी मुझमें कहीं” के लिए बेस्ट मेल प्लेबैक सिंगर)
  • 2013 – जी सीने पुरस्कार (“अभी मुझमें कहीं” के लिए बेस्ट मेल प्लेबैक सिंगर)
  • 2013 – लायंस गोल्ड पुरस्कार (“अभी मुझमें कहीं” )
  • 2013 – MTV म्यूजिक एंड वीडियो पुरस्कार
  • 2015 – ‘जल’ की कम्पोजीशन के लिए नॉमिनेट
  • 2015 – socialathan पर्सन ऑफ द ईयर
  • 2016 – लायंस गोल्ड पुरस्कार
  • 2017 – हरियाणा गौरव सम्मान पुरस्कार
  • (सोनू निगम का जीवन परिचय एवं पुरस्कार)

सोनू निगम अपनी रॉक, पॉप,एंड क्लासिकल सभी शैली में शानदार गायकी के लिए जाने माने मशहूर गायक है इसी लिए इन्हें versetile singer भी कहा जाता है। आज सोनू की एक पहचान बन गई है। अब सोनू के फेन भारत तक सीमित नहीं है बल्कि विदेशों में भी सोनू के संगीत की सराहना की जाती हैं। तो दोस्तों कैसा लगा सोनू निगम का जीवन परिचय कृपया कमेंट कर जरूर बताए ओर अच्छी लगी हो तो like ओर share करे। धन्यवाद।

Tushar Shrimali Jivani jano के लिए Content लिखते हैं। इन्हें इतिहास और लोगों की जीवनी (Biography) जानने का शौक हैं। इसलिए लोगों की जीवनी से जुड़ी जानकारी यहाँ शेयर करते हैं।

Leave a Comment