Ya Devi Sarva Bhuteshu PDF in Hindi | Download Free [2024]

दोस्तों आज की इस पोस्ट में हम आपको Ya Devi Sarva Bhuteshu PDF मुफ्त में उपलब्ध करवाने जा रहे है, जिसे आप पोस्ट में दिए गए Download Link की सहायता से आसानी से फ्री में Download कर सकते है।

यह मन्त्र माता दुर्गा का प्रमुख मन्त्र माना जाता है। यदि आप माता दुर्गा के सच्चे भक्त है तो आपको दिन में एक बार या देवी सर्वभूतेषु मन्त्र का जाप अवश्य ही करना चाहिए। जिससे आपके जीवन में आने वाली दरिद्रता, सभी प्रकार के कष्ट तथा परेशानियां दूर हो जाती है।

इस पोस्ट में हम आपको दुर्गा माता का प्रसिद्ध मन्त्र या देवी सर्वभूतेषु निःशुल्क रूप से उपलब्ध करवाने जा रहे है। यदि आप देवी की आरधना के लिए इस मन्त्र का जाप करना चाहते है तो इस पोस्ट को शुरू से लेकर अंत तक ध्यानपूर्वक जरूर पढ़े।

Ya Devi Sarva Bhuteshu PDF Details

Ya Devi Sarva Bhuteshu PDF
PDF Titleया देवी सर्व भूतेषु हिंदी लिरिक्स
LanguageHindi
Category Religion
Total Pages 2
PDF Size 62 KB
Download LinkAvailable
NOTE - Ya Devi Sarva Bhuteshu PDF Free Download करने के लिए नीचे दिए गए Download बटन पर क्लिक करें। 

Ya Devi Sarva Bhuteshu Lyrics in Hindi

या देवी सर्व भूतेषु विष्णुमायेति शब्दिता |
नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः ||१||

या देवी सर्व भूतेषु चेतनेत्य भिधीयते |
नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः ||२||

या देवी सर्व भूतेषु बुद्धिरूपेण संस्थिता |
नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः ||३||

या देवी सर्व भूतेषु निद्रारूपेण संस्थिता |
नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः ||४||

या देवी सर्व भूतेषु क्षुद्धारूपेण संस्थिता |
नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः ||५||

या देवी सर्व भूतेषु छायारूपेण संस्थिता |
नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः ||६||

या देवी सर्व भूतेषु शक्तिरूपेण संस्थिता |
नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः ||७||

या देवी सर्व भूतेषु तृष्णारूपेण संस्थिता |
नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः ||८||

या देवी सर्व भूतेषु क्षान्तिरूपेण संस्थिता |
नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः ||९||

या देवी सर्व भूतेषु जातिरूपेण संस्थिता |
नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः ||१०||

या देवी सर्व भूतेषु लज्जारूपेण संस्थिता |
नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः ||११||

या देवी सर्व भूतेषु शांतिरूपेण संस्थिता |
नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः ||१२||

या देवी सर्व भूतेषु श्रद्धारूपेण संस्थिता |
नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः ||१३||

या देवी सर्व भूतेषु कांतिरूपेण संस्थिता |
नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः ||१४||

या देवी सर्व भूतेषु लक्ष्मीरूपेण संस्थिता |
नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः ||१५||

या देवी सर्व भूतेषु वृतत्तिरूपेण संस्थिता |
नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः ||१६||

या देवी सर्व स्मृतिभूतेषु रूपेण संस्थिता |
नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः ||१७||

या देवी सर्व भूतेषु दयारूपेण संस्थिता |
नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः ||१८||

या देवी सर्व भूतेषु बुद्धिरूपेण संस्थिता |
नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः ||१९||

या देवी सर्व भूतेषु तुष्टिरूपेण संस्थिता |
नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः ||२०||

या देवी सर्व भूतेषु मातृरूपेण संस्थिता |
नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः ||२१||

या देवी सर्व भूतेषु भ्रान्तिरूपेण संस्थिता |
नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः ||२२||

या देवी सर्व भूतेषु बुद्धिरूपेण संस्थिता |
नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः ||२३||

इन्द्रियाणा मधिष्ठात्री भूतानाम् चाखिलेषु |
या भूतेषु सततम् तस्यै व्याप्तिदेव्यो नमो नमः ||24||

चितिरूपेण या कृत्सनम एतत व्याप्य स्थितः जगत |
नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः ||25||

या देवी सर्वभूतेषु मंत्र के जाप करने से होने वाले लाभ

यदि आप देवी दुर्गा के इस मन्त्र का रोजान जाप करते है तो आपको निम्नलिखित लाभ मिलते है –

  • आपके जीवनमे सुख शान्ति की स्थापना होती है।
  • आपके जीवन में आने वाले कष्ट दूर हो जाते है तथा माता दुर्गा आपके बिगड़े हुए काम को संवार देती है।
  • आपके आंतरिक मन में निहित सभी प्रकार के नकारात्मक विचारों का नाश होता है।
  • आप सदैव ही बुरी शक्तियों से सुरक्षित रहते है।
  • आपके जीवन में दरिद्रता का नाश होता है।
  • आपके दिमाग में सकारात्मक गुणों का विकास होता है।
  • माता दुर्गा के इस प्रसिद्ध मन्त्र का पाठ करने से आपको सुख- सम्पन्नता, वैभव, तथा श्रेष्ठता का वरदान प्राप्त होता है।
  • इस मन्त्र के जाप से आपको मोक्ष की प्राप्ति होती है।
  •  यदि आप रोजाना माता दुर्गा के इस मन्त्र का जाप करते है तो आपके सभी रोग, द्वेष, विघ्न आदि भस्म हो जाते हैं।
  • माता दुर्गा का विशेष आशीर्वाद सदैव ही आप पर बना रहता है, जिससे आप अपने जीवन के हर क्षेत्र में सफलता प्राप्त करते है।

Ya Devi Sarva Bhuteshu PDF Download करने के फायदे

यदि आप माता दुर्गा के इस मन्त्र को Pdf फॉर्मेट में Download करते है तो आपको निम्न फायदे होते है –

  • यदि आप इस Pdf को अपने मोबाइल में Download करते है तो आप बिना इंटरनेट की सहायता से इस मन्त्र का जाप कर सकते है।
  • इसे हार्डकॉपी के रूप में साथ में रखने की जरूरत नहीं होती है, आप जब चाहे तब इस मन्त्र को पढ़ सकते है।
  • इसे बार-बार इंटरनेट पर सर्च करने की आवश्यकता नहीं होती है, जिससे आप अपने दैनिक रूप से खपत होने वाले इंटरनेट डाटा को बचा सकते है।

FAQs: Ya Devi Sarva Bhuteshu PDF

Ya Devi Sarva Bhuteshu PDF Free Download कैसे करें?

यदि आप माता दुर्गा के प्रसिद्ध मन्त्र या देवी सर्वभूतेषु Pdf फॉर्मेट में डाउनलोड करना चाहते है तो पोस्ट में दिए गए डाउनलोड बटन पर क्लिक करके आसानी से फ्री में Download कर सकते है।

या देवी सर्वभूतेषु शक्ति रूपेण संस्थिता नमस्तस्ए नमस्तस्ए नमस्तस्ए नमो नमः का अर्थ क्या है?

इसका हिंदी में मतलब जो देवी सब प्राणियों में विद्या के रूप में विराजमान हैं, उनको नमस्कार, नमस्कार, बारंबार नमस्कार है।

दुर्गा मंत्र पढ़ने से क्या होता है?

यदि आप माता दुर्गा के मन्त्र जाप करते है तो देवी माँ आपके जीवन में चल रही सभी प्रकार की परेशानियों और बाधाओं को दूर कर देती है। देवी के मन्त्र का जाप करने से उनकी विशेष कृपा और आशीर्वाद आप पर बना रहता है।

माता रानी को कौन सा रंग पसंद है?

माता रानी को लाल रंग सर्वाधिक पसंद होता है। इसीलिए उन्हें लाल रंग के वस्त्र चढ़ाये जाते है।

Conclusion :-

इस पोस्ट में Ya Devi Sarva Bhuteshu PDF मुफ्त में उपलब्ध करवाई गयी है। साथ ही इस मन्त्र से होने वाले लाभ के बारे में जानकारी दी गयी है। उम्मीद करते है कि Ya Devi Sarva Bhuteshu Lyrics in Hindi Pdf Download करने में किसी भी प्रकार की समस्या नहीं हुई होगी।

आशा करते है कि यह पोस्ट आपको जरूर पसंद आयी होगी। यदि आपको Ya Devi Sarva Bhuteshu in Hindi Download करने में किसी भी प्रकार की समस्या आ रही हो तो कमेंट करके जरूर बताये। साथ ही Ya Devi Servbhuteshu अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करे, ताकि वे भी इस मन्त्र का जाप करें, जिससे देवी माँ उनके सभी कष्ट दूर कर देगी।

Download More PDFs:-

Leave a Comment